तोहफा-ए-दिल दे दूं या दे दूं चाँद तारे

Shayari

तोहफा-ए-दिल दे दूं , या दे दूं चाँद तारे ,
जन्मदिन पे तुझे क्या दूं , ये पूछे सारे |
ये जिंदगी तेरे नाम कर दूं तो भी काम है ,
चलो दामन मैं भर दूं मैं हर ख़ुशी तुम्हारे ||

Rate this post
Share this with friends

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.