Shayari

Shayari

हिचकियाँ कहती हैं की आप याद तो बहुत करते हो हमें, पर लबों से बयाँ नहीं करोगे तोह एहसास कैसे करेंगे हम !

Rate this post
Share this with friends

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.