सच्चा प्रेम भूत की तरह है 

“सच्चा प्रेम भूत की तरह है – चर्चा उसकी सब करते हैं, देखा किसी ने नहीं।”

Rate this post
Share this with friends

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.